पाठ 1 साखी MCQ Test 1 Sparsh II| Class 10th

Online Test of Chapter 1 साखी (Sakhi) Test 2 Hindi (Sparsh)| Class 10th 1. कबीर के अनुसार मनुष्य को कैसी वाणी बोलनी चाहिए? (i) अहंकार भरी सत्य वाणी (ii) अहंकार भरी मधुर वाणी (iii) अहंकार रहित मधुर वाणी (iv) अहंकार रहित कटु वाणी 2. ‘तन की शीतलता’ का क्या अर्थ है? (i) शरीर ठंडा पड़ना (ii) प्रभु में लीन होना (iii) सुख और शान्ति का अनुभव करना (iv) कटु वाणी को सहना 3. ‘कस्तूरी कुंडलि बसै’ – इस पंक्ति में कुंडलि का क्या अर्थ है? (i) मृग (ii) नाभि

पाठ 1 साखी MCQ Test 2 Sparsh II| Class 10th

Online Test of Chapter 1 साखी (Sakhi) Test 1 Hindi (Sparsh)| Class 10th 1. ‘निरमल करै सुभाइ’ – इस पंक्ति में ‘सुभाई’ का क्या अर्थ है? (i) ज्ञान (ii) सुख (iii) स्वभाव (iv) निंदक 2. मीठी वाणी बोलने से सुनने वालों पर क्या प्रभाव पड़ता है? (i) उनमें अहंकार आ जाता है (ii) वे क्रोधित हो जाते हैं (iii) वे बोलने वाले की बुराई करते हैं (iv) सुख और शान्ति मिलती है 3. निंदक हमारे स्वभाव को कैसे निर्मल कर देंगे? (i) दवा देकर (ii) बिन पानी और साबुन के